सीएम योगी, बोले-अयोध्या बनेगा देश का सबसे बड़ा पर्यटक स्थल


राम मंदिर निधि समर्पण अभियान की बैठक में शामिल हुए सीएम

गोरखपुर | मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अयोध्या देश का सबसे बड़ा पर्यटक स्थल बनेगा। राम मंदिर का निर्माण शुरू हो गया है। अयोध्या के विस्तार और विकास के लिए व्यापक कार्य योजना बनाई गई है। सीएम योगी अयोध्या में मंदिर निर्माण के लिए बुधवार को गोरखनाथ मंदिर के तिलक हाल में राम मंदिर निधि समर्पण अभियान की बैठक को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि श्रीराम मंदिर आंदोलन से गोरक्ष पीठ का गहरा नाता रहा है। ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ और ब्रह्मलीन महंत अवेधनाथ राम मंदिर आंदोलन के लिए अपने पूरे जीवन काल में सक्रिय रहे। ब्रह्मलीन महंत अवेधनाथ ने जन्मभूमि संघर्ष समिति के अध्यक्ष रहते हुए इस आंदोलन को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया। मुख्यमंत्री ने मंदिर निर्माण में सभी लोगों से सहयोग का अनुरोध किया। कहा कि भारत सरकार ने मंदिर निर्माण के लिए एक रुपए से इसकी शुरुआत की है। उन्होंने कहा कि अयोध्या के विकास को लेकर व्यापक कार्ययोजना को मूर्त रूप दिया जा रहा है। आने वाले दिनों में अयोध्या देश का न सिर्फ सबसे बड़ा तीर्थ स्थल होगा बल्कि सबसे आकर्षक पर्यटक स्थल के रूप में भी सामने आएगा।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने श्रीराम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान को लेकर बुधवार को शहर के बड़े उद्यमियों के साथ गोरखनाथ मंदिर में बैठक की। इस दौरान गोरखपुर के कई उद्योगपतियों ने श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए सहयोग राशि दी है। इस कड़ी में गीडा स्थित आईजीएल ने एक करोड़ 11 लाख रुपये जबकि गैलेंट इस्पात प्राइवेट लिमिटेड की ओर से एक करोड़ एक लाख रुपये की सहयोग राशि दी गई है। गोरखनाथ मंदिर की ओर 50 लाख रुपये और गोरक्षपीठ के देवीपाटन मंदिर की ओर से 51 लाख रुपये की धनराशि मंदिर निर्माण के लिए दी गई। कार्यक्रम में तकरीबन 40 की संख्या में शहर के व्यवसायी एवं उद्यमी शामिल हुए। बैठक में सीएम योगी एवं एवं विहिप के केंद्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय की मौजूदगी में शहर के उद्यमियों ने मंदिर निर्माण के लिए धनराशि का चेक समर्पित किया।


श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के मंत्री व विहिप के केंद्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय ने कहा कि अयोध्या में 36 महीने के भीतर श्रीराम मंदिर का निर्माण पूरा हो जाएगा। राम मंदिर आंदोलन इतिहास की चर्चा करते हुए कहा कि मंदिर निर्माण शुरू होने से लोगों में हर्ष है। समूचा देश इसमें खुलकर सहयोग कर रहा है। उन्होंने कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए बड़ी-बड़ी कंपनियां और वैज्ञानिकों की मदद ली जा रही है। मंदिर हजारों हजार वर्ष तक बना रहे, इसके लिए आधुनिक तकनीकी का प्रयोग किया जा रहा है। उन्होंने गोरखपुर के लोगों से मंदिर निर्माण में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करने का अनुरोध किया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top