राज्यपाल ने की योगी सरकार की पर्यटन नीति की तारीफ



पर्यटन उद्योग को रोजगार और गरीब कल्याण से जोड़े जाने पर जताई खुशी
लोक कला और कलाकारों के संरक्षण और मदद से राज्यपाल अभिभूत

लखनऊ | बजट सत्र के पहले दिन गुरुवार को यूपी विधानसभा में योगी सरकार के वर्ष भर के विकास कार्यों और उपलब्धियों का जिक्र करते हुए प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने उत्तर प्रदेश सरकार की पर्यटन नीति और उसके सफल क्रियान्वयन का खाका दोनों सदनों के समक्ष रखा। इस दौरान राज्यपाल ने योगी सरकार की गरीब कल्याण और रोजगार सृजन से जुड़ी पर्यटन नीति और विकास कार्यों की जमकर तारीफ की, साथ ही यूपी में लगातार बढ़ रही पर्यटकों की संख्या को लेकर भी प्रसन्नता व्यक्त की।

राज्यपाल ने अपने अभिभाषण में कहा उत्तर प्रदेश में पर्यटन के के विकास की असीम सम्भावनाएं हैं। यहाँ धार्मिक, सांस्कृतिक, ऐतिहासिक एवं वन्यजीव इत्यादि के अनेकों स्थल विद्यमान हैं। प्रदेश के समग्र पर्यटन विकास को ध्यान में रखते हुए योगी सरकार साल 2018 में नई पर्यटन नीति लेकर आई थी, जिसके तहत प्रदेश में विभिन्न परिपथों का निर्माण किया जा रहा है, जिनमें रामायण परिपथ, ब्रज परिपथ, महाभारत परिपथ, शक्तिपीठ परिपथ, आध्यात्मिक परिपथ, जैन परिपथ, बुद्धिस्ट परिपथ आदि प्रमुख हैं। इन परिपथों में आने वाले सभी पर्यटक स्थलों के उच्चीकरण पर विशेष बल दिया जा रहा है। रामायण परिपथ के अंतर्गत चित्रकूट एवं श्रृंगवेरपुर तीर्थों में पर्यटन विकास के कार्य किए जा रहे हैं। वाराणसी के प्रसिद्ध मन्दिरों पर आधारित “पावन पथ वेबसाइट” का निर्माण किया गया है, साथ ही धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से अन्य के अतिरिक्त, काशी विश्वनाथ धाम का विन्ध्यवामिनी धाम, शुक्रतीर्थ, वृज क्षेत्र, नैमिष धाम, चित्रकूट धाम आदि का सुरुचिपूर्ण ढंग से विकास कराया जा रहा है।

राज्यपाल ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए अपने अभिभाषण में सदन को बताया कि भारतीय पर्यटक सांख्यकी के आंकड़ों के मुताबिक सरकार के प्रयासों से उत्तर प्रदेश पूरे भारत में देशी पर्यटकों के आगमन के दृष्टिकोण से वर्ष 2019 में द्वितीय स्थान से वर्ष 2020 में प्रथम स्थान पर आ गया है। प्रदेश में इको-टूरिज्म के अंतर्गत पीलीभीत टाइगर रिजर्व एवं जनपद चन्दौली स्थित चन्द्रप्रभा वन्यजीव अभ्यारण्य में विकास कार्य कराये जा रहे हैं। मण्डलीय कारागार गोरखपुर में पं. रामप्रसाद बिस्मिल शहीद स्मारक तथा चौरी-चौरा स्थित शहीद स्मारक स्थल के सौन्दर्गीकरण एवं पर्यटन विकास का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। चौरी चौरा के शहीदों के सम्मान में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस वर्ष शताब्दी समारोह मनाया जा रहा है जिसका वर्चुअल शुभारम्भ प्रधानमंत्री द्वारा किया गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top