दिल्ली में मुद्दा बनेगा न्यूनतम आमदनी गारंटी योजना: शीला दीक्षित


पार्टी प्रदेश कार्यालय पर आयोजित पत्रकार वार्ता में दीक्षित ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को इस ऐतिहासिक योजना की घोषणा करने के लिए धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि न्यूनतम आमदनी गारंटी योजना एक ऐसा क्रांतिकारी कदम है जिससे गरीबों के जीवन स्तर में बेहतर बदलाव आएंगे। वर्ष 2004 से 2014 के बीच भी कांग्रेस के नेतृत्व में यूपीए सरकार ने 14 करोड़ लोगों को गरीबी रेखा से बाहर निकालने का कार्य किया था। शीला दीक्षित ने कहा कि लोकसभा चुनावों में यह बड़ा मुद्दा रहेगा। जबकि, 2020 के विधानसभा चुनावों में इसे पार्टी के घोषणापत्र में भी शामिल किया जाएगा।

दिल्ली की तीन बार मुख्यमंत्री रही शीला दीक्षित ने आम आदमी पार्टी की सरकार को हर मोर्चे पर फेल बताया। उन्होंने कहा कि दिल्ली में पानी की स्थिति इतनी खराब है कि दिल्ली के लोग पानी पीने से भी डरने लगे हैं। कभी तो पानी में अमोनिया ज्यादा हो जाता है तो कभी कोई और समस्या आ जाती है। दिल्ली में आगामी लोकसभा चुनावों में त्रिकोणीय मुकाबला होने की बात उन्होंने कही।

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का मुकाबला भाजपा और आम आदमी पार्टी दोनों से है। कांग्रेस पार्टी इस मुकाबले के लिए पूरी तरह से तैयार और एकजुट है। दिल्ली कांग्रेस पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष हारुन यूसुफ, देवेन्दर यादव, राजेश लिलोठिया, पूर्व मंत्री व प्रदेश प्रवक्ता रमाकांत गोस्वामी, मंगतराम सिंघल व अन्य लोग भी पत्रकार वार्ता में शामिल रहे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top