रेरा की वसूली के लिए नोएडा में नीलाम होंगे सुपरटेक के 28 विला, 9 अप्रैल को


नोएडा | रेरा की वसूली के लिए गौतमबुद्ध नगर जिला प्रशासन सुपरटेक ग्रुप के 28 विला नीलाम करेगा। इसके लिए नौ अप्रैल की तारीख तय की गई है। दादरी तहसील की नायब तहसीलदार और रेरा की वसूली का कार्य देख रहीं सीमा सिंह ने बताया कि सुपरटेक ग्रुप के 28 विला जो ग्रेटर नोएडा में गलगोटिया यूनिवर्सिटी के पास अपकंट्री प्रोजेक्ट में हैं, उन्हें जिला प्रशासन ने कुर्क किया था। यह सभी विला अब नीलाम किए जा रहे हैं। इसके लिए अधिसूचना भी जारी कर दी गई है और लोगों से इस नीलामी में हिस्सा लेने की अपील की गई है। जिलाधिकारी सुहास एलवाई का दावा है कि यह पहली बार है जब बड़े बिल्डरों की संपत्ति ऐसे जिला प्रशासन नीलाम करने जा रहा है।

नायब तहसीलदार ने बताया कि रेरा ने सुपरटेक ग्रुप की 229 आरसी जारी की हैं, जिनमें 67 करोड़ की वसूली होनी है। इस वसूली के लिए ही ग्रुप की संपत्तियों को जब्त किया जा रहा है। बकाया वसूली के लिए अन्य संपत्तियों को भी जिला प्रशासन जब्त करेगा। इनको लेकर जिला प्रशासन की ओर से एक पत्र शासन को भी भेजा जा रहा है कि बिल्डरों की इन संपत्तियों की ई-नीलामी शासन स्तर से कराई जाए।:

जिला प्रशासन के अनुसार सुपरटेक ग्रुप के द्वारा इन विला की कीमत 87 करोड़ रुपये बताई गई थी। लेकिन जिला प्रशासन के द्वारा रजिस्ट्री विभाग से जब इनका सत्यापन कराया गया तो इनकी कीमत मात्र 18 करोड़ ही निकली है।

क : रेरा की आरसी की वसूली के लिए चल रहे अभियान के तहत जिला प्रशासन अभी तक 25 बिल्डरों की 200 करोड़ की संपत्ति कुर्क कर चुका है। इसमें दो सौ फ्लैट हैं और इन सभी फ्लैटों की वास्तविक कीमत का सत्यापन भी रजिस्ट्री विभाग से कराया जा रहा है। जिला प्रशासन का दावा है कि सत्यापन में इनकी कीमत 42 से 45 करोड़ है।

फ्लैट खरीददारों के द्वारा रेरा में की गई सुनवाई के बाद नोएडा और ग्रेटर नोएडा में 1850 से अधिक आरसी जारी की जा चुकी हैं, जो वसूली के लिए जिला प्रशासन के पास भेजी जा चुकी है। इन आरसी की वसूली के लिए जिला प्रशासन ने दस टीमों का गठन किया है, जो वसूली के लिए बिल्डरों पर दबाव बनाए हुए हैं|


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top