कार्यस्थल पर महिला सुरक्षा योगी सरकार की प्रथम प्राथमिकता — स्मिता सिंह


कार्य स्थलों पर महिलाओं की सुरक्षा से देश और प्रदेश का आर्थिक विकास भी होगा

गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा चलाए जा रहे मिशन शक्ति अभियान में औद्योगिक संगठन भी सहभागी बनकर सामने आए हैं। गाज़ियाबाद में भी औद्योगिक संगठनों ने कार्यस्थल पर महिला सुरक्षा के प्रति प्रतिबद्धता जताई है। उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास निगम (UPSIDA) व जिला उद्योग केंद्र के सहयोग से गाज़ियाबाद की अनेक इकाइयों में महिला हेल्पडेस्क भी स्थापित की गई हैं।

इसी क्रम में आज कवि नगर औद्योगिक क्षेत्र में स्थित गाज़ियाबाद की प्रमुख निर्यातक कंपनियों में से एक “ऐस हार्डवेयर प्राइवेट लिमिटेड” में आयोजित एक सेमिनार को संबोधित करते हुए UPSIDA की सहायक महाप्रबंधक स्मिता सिंह ने बताया कि योगी आदित्यनाथ जी के निर्देशन में प्रदेश सरकार ने मिशन शक्ति अभियान की शुरुआत की थी। इस अभियान का एक उद्देश्य कार्य स्थल पर महिलाओं की सुरक्षा भी है। सरकार का मानना है कि कार्य स्थलों पर महिलाओं की सुरक्षा से देश और प्रदेश का आर्थिक विकास भी होगा, क्योंकि सुरक्षा की भावना के साथ उनका योगदान रचनात्मक कार्यों में अधिकाधिक हो सकेगा।

इसी भावना के साथ गाज़ियाबाद जिले की विभिन्न औद्योगिक इकाइयों में इस मिशन के तहत विभिन्न स्थानों पर अनेक जागरुकता कार्यक्रम कराए जा रहे हैं। उन्होंने कन्या सुमंगला योजना, बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान के साथ ही महिला हेल्पलाइन नंबर 181, 1098, 1090, 112 और 1076 आदि के के बारे में भी जानकारी दी।

इस अवसर पर सहायक निदेशक (उद्योग) बिरेन्द्र कुमार ने बताया कि जिले के सभी औद्योगिक संगठन, इकाइयों और व्यापार संगठन मिशन शक्ति अभियान में हिस्सा ले रहे हैं। जिले की ऐसी सभी इकाइयों में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना की गई है जहां अधिक संख्या में महिलाएं काम कर रही हैं। स्थानीय पुलिस के सहयोग से औद्योगिक क्षेत्रों में सुबह और शाम के समय पुलिस गश्त बढ़ाने के प्रयास किए जा रहे हैं ताकि कामकाजी महिलाओं ऑफिस आते-जाते समय किसी कठिनाई का सामना न करना पड़े।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top