मेडिकल संस्थानों में जल्द भरे जाएं डॉक्टर-कर्मचारियों के खाली पद—डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक


डिप्टी सीएम ने चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दिए निर्देश, जल्द पूरी की जाए भर्ती प्रक्रिया

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में रोगियों के इलाज में डॉक्टर और कर्मचारियों की कमी आड़े नहीं आएगी। मेडिकल संस्थानों में अभियान चलाकर डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ, नर्सिंग व दूसरे संवर्ग के कर्मचारियों की भर्ती जाएगी। जल्द खाली पद भरे जायें ताकि मरीजों को बिना इंतजार उच्चकोटि का इलाज मिल सके।

यह निर्देश सोमवार को डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दिये। डिप्टी सीएम ने कहा कि पीजीआई में 1803 पदों पर भर्ती की प्रक्रिया तीन से चार माह में पूरी की जाये। कल्याण सिंह सुपर स्पेशलिटी कैंसर संस्थान में 93 पदों पर विशेषज्ञ डॉक्टरों की भर्ती प्रक्रिया चल रही है। इसे भी जल्द पूरा किया जाये। यहां खाली पदों को भरने की प्रक्रिया चल रही है। इसमें भी देरी न की जाये। डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में चिकित्सा शिक्षकों के लगभग 300 पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन निकाला जा चुका है। 800 से अधिक डॉक्टरों ने आवेदन किया है। जल्द से जल्द चिकित्सा शिक्षक भर्ती किये जायें। संस्थान में खाली पड़े पैरामेडिकल स्टाफ के पदों की भर्ती प्रक्रिया चल रही है। विज्ञापन जारी कर दिया गया है। बिना किसी बाधा के पूरी ईमानदारी और शुचिता से भर्ती प्रक्रिया पूरी की जायेगी।

प्रदेश के दूसरे सरकारी मेडिकल कॉलेजों में भी चिकित्सा शिक्षक, नर्सिेंग, पैरामेडिकल स्टाफ के खाली पद भरे जायेंगे। इससे युवाओं को अवसर मिलेगा। वहीं रोगियों को उपचार उपलब्ध कराने में आसानी होगी।


Scroll To Top
Translate »