अवधी लोकगीत कार्यशाला का शुभारम्भ, 14दिसम्बर तक प्रतिदिन गूगल मीट ऐप्प पर , देश-विदेश से जुटे प्रतिभागी


संगीतज्ञ प्रो. कमला श्रीवास्तव के निर्देशन में साध रहे सुर

लोक संस्कृति शोध संस्थान का आयोजन

लखनऊ। लोक संस्कृति शोध संस्थान द्वारा सोमवार को ऑनलाइन अवधी लोकगीत कार्यशाला का शुभारम्भ किया गया। कार्यशाला में देश-विदेश के 66 प्रतिभागी सम्मिलित हुए। सुप्रसिद्ध संगीतज्ञ प्रो. कमला श्रीवास्तव के निर्देशन में आयोजित यह कार्यशाला चौदह दिसम्बर तक प्रतिदिन गूगल मीट ऐप्प पर चलेगी।

कार्यशाला का शुभारम्भ करते हुए संगीत विदुषी प्रो. कमला श्रीवास्तव ने कहा कि परम्पराएं हमारे जीवन का अभिन्न अंग हैं। इसमें पूजन तथा इस अवसर पर गाये जाने वाले गीतों की लम्बी परम्परा है। असंख्य देवी गीत हैं जो लोक धुनों में गाये जाते हैं। पारम्परिक लोक धुनों पर रचे गये गीतों में बहुत समानतायें भी मिलती हैं जैसे सोने की थाली में जेवना परोसना, लौंग इलायची का बीड़ा लगाना, फूलों की सेज बिछाना आदि। ये गीत हमारी पारम्परिक धरोहर है जिसे संजोकर रखना और उन्हें अगली पीढ़ी को हस्तांतरित किया जाना वाचिक परम्परा के साथ अनादि काल से होता आया है।

लोक संस्कृति शोध संस्थान की सचिव सुधा द्विवेदी ने बताया कि कार्यशाला के प्रथम दिवस देवी तो हमरे घर आयीं दरस दिखलाईं निहुर कै हम पइंयां लागीं… तथा लक्ष्मी मइया त होवैं सहाय सरन तोहरी आय परी गीत का अभ्यास कराया। कार्यशाला में अमेरिका से अमृता पाण्डेय, कोलम्बो से डॉ. अंजलि मिश्रा के साथ ही भारत के विभिन्न राज्यों के प्रतिभागी शामिल हैं जिनमें श्रीमती आभा शुक्ला, अलका चतुर्वेदी, अम्बुज अग्रवाल, श्रीमती अनुज श्रीवास्तव, आशा श्रीवास्तव, अरुणा उपाध्याय, आशा सिंह रावत, भगवती पाण्डेय, भारती श्रीवास्तव-गाजियाबाद, भारती श्रीवास्तव-लखनऊ, डॉ. भक्ति शुक्ला, चित्रा जायसवाल, दिव्यांशी मिश्रा, गौरव गुप्ता, इन्द्रा श्रीवास्तव, डॉ. इन्दु रायजादे, ज्योति किरन रतन, कल्पना सक्सेना, कुमकुम मिश्रा, कुसुम वर्मा, प्रो. मधुरिमा लाल, मधु श्रीवास्तव, मंजू श्रीवास्तव, मीतू मिश्रा, निधि निगम, नीलम वर्मा, नीरा मिश्रा, नम्रता मिश्रा, डॉ. प्रतिभा मिश्रा, डॉ. पूनम द्विवेदी, पूनम सिंह, डॉ. पूर्णिमा अग्रहरि, पूर्णिमा धर्मेश क़ानूनगो, प्रगति राठौर, रंजना शंकर, रत्ना शुक्ला, रीता पाण्डेय, रेखा अग्रवाल, रेखा मिश्रा, रेनू पाण्डेय, रुपाली रंजन श्रीवास्तव, रचना गुप्ता, सीमा अग्रवाल, सुमन शर्मा, डॉ. सरोजिनी सक्सेना, डॉ. सुरभि सिंह, संगीता दूबे, संगीता खरे, शैलजा श्रीवास्तव, शिप्रा चन्द्रा, सुषमा प्रकाश, संगीता श्रीवास्तव, शारदा पाण्डेय, सरिता अग्रवाल, सौरभ कुमार कमल, शक्ति श्रीवास्तव, सुषमा अग्रवाल, सुनीता पाण्डेय, स्वरा त्रिपाठी, तनु भार्गव, ऊषा पाण्डिया, वन्दना शुक्ला, प्रो. विनीता सिंह, डॉ. वन्दिता सिन्हा प्रमुख हैं।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top
Translate »