मुख्यमंत्री ने नवचयनित क्षेत्रीय युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल अधिकारियों तथा व्यायाम प्रशिक्षकों को नियुक्ति पत्र वितरित किए


उ0प्र0 अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा युवा कल्याण एवं प्रान्तीय रक्षक दल विभाग के अन्तर्गत 508 क्षेत्रीय युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल अधिकारियों तथा 26 व्यायाम प्रशिक्षकों का चयन

लखनऊ | मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश के ग्रामीण युवाओं का सर्वांगीण विकास कर उन्हें राष्ट्र के विकास की मुख्यधारा में सम्मिलित करने हेतु वर्तमान सरकार प्रतिबद्ध है। ग्रामीण युवाओं को प्रशिक्षण देने और ग्रामीण क्षेत्रों में खेलकूद को बढ़ावा देने में प्रान्तीय रक्षक दल (पी0आर0डी0) की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। ग्रामीण युवाओं को सही मार्गदर्शन की आवश्यकता है, इससे वे तेजी से आगे बढ़ेंगे। 
मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर नवचयनित क्षेत्रीय युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल अधिकारियों तथा व्यायाम प्रशिक्षकों को नियुक्ति पत्र वितरित करने के बाद अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने युवा कल्याण एवं प्रान्तीय रक्षक दल विभाग के अन्तर्गत उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा चयनित 508 क्षेत्रीय युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल अधिकारियों तथा 26 व्यायाम प्रशिक्षकों को बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। ज्ञातव्य है कि विभिन्न जनपदों में नियुक्ति पत्र प्राप्त करने वाले नवचयनित अभ्यर्थियों ने वर्चुअल माध्यम से इस कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। यह समस्त भर्तियां मिशन रोजगार के तहत निष्पक्ष एवं पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया के अन्तर्गत की गई हैं। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि विगत सवा चार वर्षाें में सवा चार लाख युवाओं को सरकारी नौकरियों उपलब्ध करायी गयी हैं। सरकारी भर्तियों में निष्पक्षता एवं पारदर्शिता का पूरा ध्यान रखा गया है। इससे योग्य अभ्यर्थियों का ही चयन सम्भव हुआ है। इसके अलावा, प्रदेश में आने वाले निवेश के माध्यम से 1.61 करोड़ युवाओं को निजी क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराया गया है। साथ ही, राज्य सरकार द्वारा 60 लाख से अधिक युवाओं को स्वरोजगार से भी जोड़ा गया है। राज्य सरकार प्रदेश के युवाओं के बेहतर भविष्य के लिए सतत प्रयास कर रही है। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘खेलो इण्डिया’ के तहत ग्रामीण युवाओं को खेल के प्रति जागरूक करने के लिए कार्यक्रम तो चलते थे, लेकिन खेल सामग्री की कमी थी। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की मंशा के अनुरूप प्रदेश में अब तक 55 हजार से अधिक मंगल दलों को खेल सामग्री वितरित की गयी है। ग्रामीण क्षेत्रों में खेल स्टेडियम निर्माण की प्रक्रिया को युद्धस्तर पर आगे बढ़ाया गया, जिसके परिणामस्वरूप आज युवक मंगल दल एवं महिला मंगल दलों में भी खेलकूद की गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए एक नई प्रतिस्पर्धा देखने को मिल रही है। उन्होंने कहा कि प्रादेशिक विकास दल के़े प्रशिक्षित अधिकारियों का मार्गदर्शन प्राप्त होने से ग्रामीण युवाओं को आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त होगा। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्राम पंचायतों को अपने क्षेत्रों में खेल के प्रति प्राथमिकता तय करने के लिए कहा गया है। नवनिर्वाचित पंचायत से जुड़े सभी जनप्रतिनिधियों के कार्याें से अनेक खेल प्रतिभाएं गांवों से निकलकर देश-दुनिया में अपनी प्रतिभा से धूम मचाने में सफल हो सकती हैं। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रशासन की मदद के लिए पी0आर0डी0 के जवान सदैव तत्पर होकर कार्य करने हेतु प्रतिबद्ध रहते हैं। राज्य सरकार ने उनके मानदेय में बढ़ोत्तरी करते हुए उन्हें विशेष रूप से प्रोत्साहित करने का प्रयास किया है। विगत चार वर्षों से पी0आर0डी0 जवानों का न केवल यातायात व्यवस्था के सुचारू संचालन में, बल्कि पर्व व विभिन्न आयोजन पर शांति-व्यवस्था बनाने और नागरिकों को सुविधा देने में भी बेहतरीन उपयोग कर रहे हैं। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि क्षेत्रीय युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल अधिकारियों तथा व्यायाम प्रशिक्षकों के पदों पर भर्तियां वर्षाें से लम्बित थीं। राज्य सरकार द्वारा अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से नवचयनित ये 534 युवा अपने एक नये जीवन में प्रवेश कर रहे हैं। उन्हांेने कहा कि उन्हें विश्वास है कि प्रदेश का युवा कल्याण विभाग ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले युवाओं के लिए विभिन्न प्रकार के अवसरों को आगे बढ़ाने का कार्य करेगा। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्व ग्रामों में विभिन्न गतिविधियों के संचालन में इन नवचयनित अभ्यर्थियों का सहयोग लिया जाए, ताकि गांवों में ग्राम स्वराज की परिकल्पना को साकार किया जा सके। इसके लिए इन्हें प्रशिक्षित करना होगा। ग्रामीण युवाओं को स्वावलम्बी बनाने के उद्देश्य से राज्य सरकार द्वारा विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना लागू की गयी है। इस योजना से ग्रामीण युवाओं को लाभान्वित करने में यह नवचयनित अभ्यर्थी सक्रिय भूमिका निभा सकते हैं। यह नवचयनित अभ्यर्थी ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत तथा जिला पंचायतों में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। कार्यक्रम को युवा कल्याण एवं खेल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री उपेन्द्र तिवारी ने भी सम्बोधित किया। 

इस अवसर पर राज्य युवा कल्याण परिषद के उपाध्यक्ष श्री विभ्राट चन्द्र कौशिक, मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी, अपर मुख्य सचिव एम0एस0एम0ई0 एवं सूचना श्री नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव युवा कल्याण श्रीमती डिम्पल वर्मा, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना श्री संजय प्रसाद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।
——–



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top