कोविड प्रोटोकॉल का पूर्णतया पालन सुनिश्चित कराया जाए— मुख्यमंत्री योगी


मुख्यमंत्री ने कोविड संक्रमण से बचाव और उपचार कीव्यवस्थाओं को निरन्तर प्रभावी बनाए रखने के निर्देश दिए

प्रत्येक जनपद में प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि कोईखुले में न सोए, यदि कोई ऐसा दिखे तो उसे रैन बसेरे तक पहुंचाया जाए

लखनऊ | मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड संक्रमण से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को निरन्तर प्रभावी बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कोविड प्रोटोकॉल का पूर्णतया पालन सुनिश्चित कराया जाए।मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 23 नए मामले सामने आए हैं। इस अवधि में 15 व्यक्तियों को सफल उपचार के उपरान्त डिस्चार्ज किया गया। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 211 है।

मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि जनपद अम्बेडकर नगर, अमेठी, औरैया, अयोध्या, आजमगढ़, बदायूं, बांदा, बाराबंकी, बस्ती, बहराइच, चन्दौली, चित्रकूट, एटा, इटावा, फर्रुखाबाद, फिरोजाबाद, गोण्डा, गोरखपुर, हापुड़, हरदोई, हाथरस, जौनपुर, कासगंज, कौशाम्बी, कुशीनगर, ललितपुर, महोबा, मैनपुरी, मऊ, मिर्जापुर, पीलीभीत, प्रतापगढ़, संतकबीरनगर, शामली, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, सीतापुर तथा सुल्तानपुर में कोविड का एक भी मरीज नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड टीकाकरण को और तेज करने के लिये प्रभावी प्रयास किये जाएं। टीकाकरण की उपयोगिता के सम्बन्ध में लोगों को जागरूक किया जाए। अब तक पहली डोज न पाने वाले लोगों की सूची अलग तैयार की जाए तथा जिनकी दूसरी डोज ओवरड्यू है उनकी पृथक सूची बनायी जाए। दिव्यांग, निराश्रित, वृद्धजन से सम्पर्क कर उनका टीकाकरण कराया जाए।

बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि राज्य में गत दिवस तक 18 करोड़ 74 लाख 50 हजार से अधिक कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी हैं। 06 करोड़ 47 लाख 94 हजार से अधिक लोगों को टीके की दोनों डोज देकर कोविड सुरक्षा कवच प्रदान किया जा चुका है। 12 करोड़ 26 लाख 55 हजार से अधिक लोगों ने कोविड वैक्सीन की पहली डोज प्राप्त कर ली है। यह संख्या टीकाकरण के लिए पात्र प्रदेश की कुल आबादी की 83.20 प्रतिशत है। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में 01 लाख 51 हजार 687 कोरोना टेस्ट किए गए। अब तक राज्य में 09 करोड़ 10 लाख 54 हजार 537 कोविड टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि बुन्देलखण्ड क्षेत्र के झांसी, महोबा, चित्रकूट आदि जनपदों में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए नियोजित प्रयास किए जाएं। इन जनपदों के सरकारी अस्पतालों में बेड की संख्या में वृद्धि की जाए। उन्होंने कहा कि जिन अस्पतालों की बेड की क्षमता 100 है, उन अस्पतालों को 200 बेड के रूप में उच्चीकृत किया जाए। इसके लिए प्राथमिकता पर कार्यवाही की जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शीतलहर के दृष्टिगत सभी जनपदों में रैनबसेरों को प्रभावी ढंग से संचालित किया जाए। रैनबसेरों में स्वच्छता व सुरक्षा के पुख्ता इन्तजाम किये जायें। प्रत्येक जनपद में प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी यह सुनिश्चित करंे कि कोई खुले में न सोए। यदि कोई ऐसा दिखे तो उसे रैन बसेरे तक पहुंचाया जाए। उन्होंने महत्वपूर्ण स्थानांे पर अलाव जलाने तथा जरूरतमन्दों को कम्बल वितरित करने के निर्देश दिए।
मुख्यमंत्री जी ने निर्देशित किया कि निर्माणाधीन आॅक्सीजन प्लाण्ट की स्थापना का कार्य यथाशीघ्र पूरा किया जाए। आॅक्सीजन प्लाण्ट के संचालन के लिए प्रशिक्षित तकनीकी कर्मियों की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। बैठक में अवगत कराया गया कि प्रदेश में अब तक 551 आॅक्सीजन प्लाण्ट क्रियाशील किए जा चुके हैं।

मुख्यमंत्री ने समस्त धान क्रय केन्द्रों पर सभी आवश्यक व्यवस्थाएं बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी धान क्रय केन्द्रों का निरीक्षण कर यह सुनिश्चित करें कि किसानों को अपनी उपज बेचने में कोई असुविधा न हो। जनपदों में तैनात नोडल अधिकारी पूरी तरह सक्रिय रहें। उन्होंने कहा कि किसानों को समय से उनकी उपज के मूल्य का भुगतान किया जाए।
——–


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top
Translate »