शारदीय नवरात्र के प्रथम दिन श्रीगोरखनाथ मन्दिर में परम्परागत रूप से गोरक्षपीठाधीश्वर महन्त योगी आदित्यनाथ जी महाराज ने वैदिक मन्त्रों के बीच कलश स्थापना की


lucknow | शारदीय नवरात्र के प्रथम दिन श्रीगोरखनाथ मन्दिर में परम्परागत रूप से गोरक्षपीठाधीश्वर महन्त योगी आदित्यनाथ जी महाराज ने वैदिक मन्त्रों के बीच कलश स्थापना की। इसके पूर्व एक शोभा यात्रा मठ के प्रधान पुजारी योगी कमलनाथ नेतृत्व में शख, घंट-घड़ियाल एवं नागफनी (वाद्य-यंत्र) के साथ भीम सरोवर की परिक्रमा की तथा सरोवर से कलश में जल भरे।

आज प्रतिपदा के दिन माँ शैलपुत्री की पूजा हुई। पूजा मे गोरक्षपीठाधीश्वर ने सभी देव विग्रहांे के षोडशोपचार पूजन के साथ श्रीदुर्गा सप्तशती एवं देवी पुराण का पाठ मठ पुरोहित पं0 रामानुज त्रिपाठी के नेतृत्व 11 पंडितों द्वारा सम्पन्न हुआ। उसके बाद आरती सम्पन हुई। आरती के पश्चात् प्रसाद वितरण हुआ। सभी कार्यक्रम कोविड-19 प्रोटोकाॅल तथा सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए सम्पन्न हुए।

इस दौरान श्री द्वारिका तिवारी, डाॅ0 अरविन्द चतुर्वेदी, डाॅ0 रोहित मिश्र, श्री पुरूषोत्तम चैबे, श्री अरूणेश शाही, श्री दुर्गेश बजाज, श्री बृजेश मणि मिश्र, बाल वैज्ञानिक राहुल सिंह आदि उपस्थित रहे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top
Translate »