ओ.टी.एस. प्रकरणों को इस माह के अन्त तक करें निस्तारित— LDA, VC



लखनऊ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष अक्षय त्रिपाठी ने एकमुश्त समाधान योजना के तहत आए आवेदनों की समीक्षा की
नोडल अफसरों को दी हिदायत, ओटीएस के मामले किसी हाल में ना हो लंबित

लखनऊ | लखनऊ विकास प्राधिकरण में एकमुश्त समाधान योजना (ओ.टी.एस) के तहत आए आवेदन अब और तेजी से निस्तारित होंगे। प्राधिकरण के उपाध्यक्ष अक्षय त्रिपाठी ने इस बाबत आदेश जारी करते हुए ओटीएस के सभी प्रकरणों को अगस्त माह के अंत तक निस्तारित करने को कहा है। उन्होंने नोडल अफसरों की जिम्मेदारी तय करते हुए हिदायत दी कि ओटीएस से संबंधित मामले किसी भी हाल में लंबित ना रहें।

लखनऊ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष अक्षय त्रिपाठी ने आज दिनांक 9 अगस्त 2021 को ओटीएस प्रकरणों की समीक्षा की। बैठक के दौरान वित्त नियंत्रक राजीव कुमार द्वारा बताया गया की ओटीएस के तहत कुल 3716 आवेदन प्राप्त हुए हैं। इनमें से 2769 मामले पर कार्रवाई की जा चुकी है, जबकि 929 मामले प्रक्रिया में है। उपाध्यक्ष ने इन बचे हुए प्रकरणों को भी जल्द निस्तारित करने के निर्देश दिए। उपाध्यक्ष ने अधिकारियों से कहा कि वे प्राधिकरण के कुल बकायेदार आवंटियों की सूची तैयार कर लें। फिर इसमें देखें कि इनमें से कितने बकायेदारों ने ओटीएस के तहत आवेदन किया है। जिन बकायेदारों ने ओटीएस के तहत आवेदन नहीं किया है, उन्हें नियमानुसार धनराशि जमा न करने के कारण संपत्ति के निरस्तीकरण की नोटिस भेजी जाए।

इसके अलावा उन्होंने वित्त नियंत्रक से ओटीएस के स्वीकृत मामलों के सापेक्ष जमा हुई धनराशि का भी ब्योरा मांगा है।

उपाध्यक्ष ने अधिकारियों को ओटीएस प्रकरणों की अगली समीक्षा बैठक में उपरोक्त सभी बिंदुओं पर रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा। सोमवार को हुई इस बैठक में सचिव पवन कुमार गंगवार और अपर सचिव ज्ञानेंद्र वर्मा समेत संपत्ति अधिकारी उपस्थित रहे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top
Translate »