राज्य और केन्द्रीय कर्मचारी राष्ट्रव्यापी आन्दोलन की तैयारी में जुटे



केन्द्र/राज्य कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी एवं पेंशनर्स के संगठनों के उच्च पदाधिकारियों की बैठक सम्पन्न। राजधानी में केन्द्र और राज्य के दर्जनों संगठनों की बैठक में व्यापक मंथन

लखनऊ | केन्द्र और राज्य सरकारों द्वारा लगातार कर्मचारियों के विरोध में लिए जा रहे निर्णय, पुरानी पेंशन नीति मांग, चतुर्थ श्रेणी की भर्ती, ठेका प्रथा की समाप्ति, सरकारी विभागों के निजीकरण जैसे तमाम मुद्दो पर केन्द्र/राज्य कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी एवं पेंशनर्स के संगठनों की हुई बैठक में कई घंटे की बैठक और चर्चा के उपरान्त ग्राम पंचायत से लेकर दिल्ली तक एक व्यापक राष्ट्र व्यापी आन्दोलन का निर्णय लिया गया। इस राष्ट्रव्यापी आन्दोलन से पूर्व बैठक में अलग गुटों मे बाॅटे और कुछ अन्य संगठनों के राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर के नेताओं को मंच में उनकी मर्जी का पद देकर उन्हें राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर जिम्मेदारी देने पर जोर दिया गया। डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ लोक निर्माण विभाग के प्रागण में आयोजित इस बैठक की अध्यक्ष केन्द्रीय रेलवे संगठन के शीर्ष नेता शिव गोपाल मिश्र एवं संचालन राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के महामंत्री शिवबरन सिंह यादव ने करते हुए इस बाॅत पर जो दिया कि समस्याएं कर्मचारी समाज से जुड़ी है इसलिए इसे अब एक मंच के माध्यम से ही निपटाया जा सकता है। बैठक में निर्णय लिया गया कि शीघ्र ही समन्वय समितियाॅ बनाकर समिति के राज्य स्तरीय एवं राष्ट्रीय स्तर के नेताओं को देश के अन्य राज्यों की जिम्मेदारी सौपते हुए अन्य प्रान्तों को कर्मचारियों की समस्याओं के निस्तारण के लिए एकजुट होकर आन्दोलन में शामिल किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश तथा देश की सरकार द्वारा कर्मचारियों के महंगाई भत्ते की किश्तों को जारी करवाने,पुरानी पेंशन बहाली की मांग ,चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की भर्ती शुरू करवाने जैसी कई महत्वपूर्ण माँगो को लेकर डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ कार्यालय में आल इंडिया रेल फेडरेशन के राष्ट्रीय महामंत्री एवँ केंद्रीय कर्मचारियों तथा राज्य कर्मचारियों के सर्वमान्य नेता शिव गोपाल मिश्र की अध्यक्षता में एक बैठक सम्पन्न हुई, जिसमें तमाम केंद्र व राज्य कर्मचारियों के प्रतिनिधियों ने पूरे देश में एक बड़ी एकता बनाकर सरकार से उपरोक्त बिंदुओ पर सकारात्मक निर्णय कराये जाने हेतु संघर्ष की रणनीति तय की गई। संघ भवन डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ लखनऊ में कर्मचारी शिक्षक अधिकारी पेंशनर्स के संगठनों के उच्च पदाधिकारियों की नववर्ष के उपलक्ष्य में एक औपचारिक मिलन बैठक में विभिन्न संगठनों के शीर्ष नेतृत्व के साथ कर्मचारी संगठनों के अस्तित्व को बचाने व अपनी मूल भूत मिल रही सुविधाओं को बचाए रखने तथा अपेक्षित सुविधाओं को प्राप्त करने के सम्बन्ध में व्यापक चिंतन ,मंथन करके सर्व सम्मति से तय किया गया है केंद्रीय एवं राज्य कर्मचारी संगठन एक मंच एक बैनर तले संघर्ष करके अपनी एकता व ताकत को अक्षुणय बनाए रखे।

बैठक , में प्रधान महासचिव सुशील कुमार त्रिपाठी, अरविन्द्र कुमार वर्मा, डिप्लोमा इंजीनियर्स महासंघ के संरक्षक इं. एस.पी. मिश्रा,राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष इं. हरिकिशोर तिवारी, महासचिव डिप्लोमा इंजीनियर महासंघ इं. जी.एन. सिंह, आल इंडिया पेंशनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष शिवशंकर दुबे अजय सिंह अध्यक्ष राज्य कर्मचारी महासंघ, राज्य पेंशनर्स एसोसिएशन के प्रमोद शर्मा, एन.पी. त्रिपाठी, पीसीएस एसोसियेशन के पूर्व अध्यक्ष , उत्तर प्रदेश अधिकारी महापरिषद के संरक्षक बाबा हरदेव सिंह, कार्यवाहक अध्यक्ष चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी महासंघ महेन्द्र कुमार पाण्डेय, स्टेनोंग्राफर संध के नरेन्द्र सिंह नेगी, सचिवालय संघ के अध्यक्ष यादवेन्द्र मिश्रा, जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ के आदिल मंसूरी, नार्दन रेल्वे मेन्स यूनियन के आर.के. पाण्डेय, बीटीसी शिक्षक एसोसिएशन के अध्यक्ष संतोष तिवारी, जवाहर भवन इन्दिरा भवन कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष सतीश कुमार पाण्डेय, महामंत्री सुशील कुमार बच्चा, सुरेन्द्र कुमार श्रीवास्तव, प्रेम कुमार सिंह, गंगेश कुमार शुक्ल,आल इण्डिया ड्राईवर फेडरेशन के अध्यक्ष रामफेर पाण्डेय, राजकीय निर्माण निगम के अध्यक्ष इं. मिर्जा फिरोज शाह, महामंत्री इं. एस.डी. द्विवेदीएआईआरएफ के महेन्द्र श्रीवास्तव आदि ने अपने विचार रखें। बैठक में अन्य राज्य एवं केन्द्रीय सरकार के कर्मचारी संगठनों की ओर से संजीव गुप्ता, सुभाष चन्द तिवारी, अविनाश चन्द्र श्रीवास्तव, मुकेश चन्द्र जोशी, इं. दिवाकर राय, इं. डी.पी. सिंह,प्राथमिक शिक्षक संघ कश्े सुधांशु मोहन, आनंद प्रताप सिंह, दिलीप कुमार चैहान, इश्तियाक अंसारी, , संजय मिश्रा गुल्लु, विनोद कुमार, अरूणेन्द्र कुमार,, सहित सैकड़ों कर्मचारी नेता मौजूद थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top
Translate »