सिंगल यूज प्लास्टिक की रोकथाम के लिए 25 सितंबर से 2 अक्टूबर तक विशेष अभियान चलाया जाए—मुख्य सचिव



लखनऊ। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने सिंगल यूज प्लास्टिक के प्रतिबंधों को कड़ाई से लागू करने के संबंध में बैठक की।     अपने संबोधन में मुख्य सचिव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में सिंगल यूज प्लास्टिक की रोकथाम के लिए 25 सितंबर से लेकर 2 अक्टूबर तक गांवों से लेकर शहर तक विशेष अभियान चलाया जाए। इस अभियान के दौरान होटल, रेस्टोरेंट और दुकानों के साथ ही आम जनमानस को सिंगल यूज प्लास्टिक इस्तेमाल न करने के प्रति जागरूक किया जाए। अभियान के दौरान प्लास्टिक को बरामद करने तथा बेहतर काम करने वाले कर्मियों को पुरस्कृत किया जाये। इसके अलावा जिन फैक्ट्रियों में बैन प्लास्टिक का उत्पादन किया जा रहा है, उनके विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाये।
     

उन्होंने कहा कि प्रदूषण में सिंगल यूज प्लास्टिक की बहुत बड़ी भूमिका हैं। इसकी रोकथाम के लिए सिर्फ सिंगल यूज प्लास्टिक ही नहीं, बल्कि हर प्रकार के प्लास्टिक के प्रयोग को बंद करने के लिए और आमजन में जागरूकता फैलाने के लिए विशेष कदम उठाए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि 90 के दशक में प्लास्टिक का कहीं भी प्रयोग नहीं होता था। उस समय लोग कपड़े, जूट के थैले लेकर चलते थे और खाने में मिट्टी/मेटल के बर्तन या पत्तल का प्रयोग करते थे। धरती को बचाने के लिए हमें वापस उसी पुरानी व्यवस्था में चलना होगा।
   

  बैठक में अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री अरविंद कुमार, अपर मुख्य सचिव वन एवं पर्यावरण श्री मनोज सिंह, निदेशक पंचायती राज श्री अनुज कुमार झा, निदेशक स्थानीय निकाय सुश्री नेहा शर्मा समेत सम्बन्धित अन्य अधिकारीगण आदि मौजूद थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top
Translate »