सेफ सिटी परियोजना के अन्तर्गत स्वीकृत सभी कार्यों को तेजी से पूरा किया जाये—मुख्य सचिव


मुख्य सचिव की अध्यक्षता में लखनऊ सेफ सिटी परियोजना की राज्य स्तरीय उच्च समिति एवं स्टेट लेवल सैंक्शनिंग कमेटी की बैठक आयोजित

पिंक बूथ एवं पिंक टाॅयलेट्स को गूगल मैप से जोड़ा जाये

लखनऊ। मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में लखनऊ सेफ सिटी परियोजना की राज्य स्तरीय उच्च समिति तथा स्टेट लेवल सैंक्शनिंग कमेटी की बैठक सम्पन्न हुई।  अपने सम्बोधन में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने कहा कि ट्रैफिक मैनेजमेन्ट एवं सिटीजन सेफ्टी स्मार्ट सिटी की बैकबोन है, अतः इनसे सम्बन्धित परियोजनाओं को तेजी से पूरा किया जाये। उन्होंने कहा कि सेफ सिटी परियोजना के अन्तर्गत जो पिंक बूथ एवं पिंक टाॅयलेट्स बनाये जा रहे हैं उन्हें गूगल मैप से जोड़ने की कार्यवाही की जाये।

बैठक में केन्द्र प्रयोजित लखनऊ सेफ सिटी परियोजना में क्रियान्वयन के अनुश्रवण लखनऊ सेफ सिटी परियोजना के लिए आवंटित धनराशि की सीमा के अन्तर्गत एक मद से बचत की धनराशि को दूसरे मद पर व्यय प्रतिपूर्ति का अनुमोदन प्रदान किया गया।  इससे पूर्व बैठक में बताया गया कि लखनऊ सेफ सिटी प्रोजेक्ट के अन्तर्गत 1090 इंफ्रास्ट्रक्चर एण्ड फंक्शनल स्ट्रेन्थनिंग, पिंक स्कूटर एण्ड पिंक एसयूवी, पिंक बूथ/पिंक आउटपोस्ट्स, आशा ज्योति केन्द्र, स्ट्रीट लाइट्स, पिंक टाॅयलेट्स, बसों में सीसीटीवी एवं पैनिक बटन तथा इन्टीग्रेटेड स्मार्ट कन्ट्रोल रूम की स्थापना के कार्य शामिल हैं। लखनऊ सेफ सिटी परियोजना के लिए रु0 194.44 करोड़ रुपये आवंटित किये गये हैं। 1090 इंफ्रास्ट्रक्चर एण्ड फंक्शनल स्ट्रेन्थनिंग के अन्तर्गत एडीशनल काॅल सेन्टर का निर्माण पूरा हो गया है तथा 80 टर्मिनल बढ़ाकर कुल 154 टर्मिनल कर दिये गये हैं, जिससे काॅल टेकर्स की क्षमता बढ़ गयी है।

इफेक्टिव बीट पेट्रोलिंग के लिए महिला पुलिस को 100 टू व्हीलर तथा 10 फोर व्हीलर वाहन प्रदान किये गये हैं। पिंक बूथ/आउटपोस्ट कुल संख्या 81 का निर्माण पूरा हो गया है। आशा ज्योति केन्द्र के सुदृढ़ीकरण का कार्य भी चल रहा है। डार्क एण्ड आइसोलेटेड एरिया में 950 स्ट्रीट लाइट्स की स्थापना की जा चुकी है। महिलाओं के लिए पिंक टाॅयलेट्स का निर्माण कराया जा रहा है तथा अब तक 18 का कार्य पूरा हो गया है। बसों में सीसीटीवी एवं पैनिक बटन के लिए कार्यवाही प्रगति पर है, और यह कार्य माह दिसम्बर, 2021 तक पूरा कर लिया जायेगा।

इसके अतिरिक्त इंटीग्रेटेड स्मार्ट कन्ट्रोल रूम का निर्माण भी किया जा रहा है, इसे लखनऊ स्मार्ट सिटी बिल्डिंग के समीप बनाया जा रहा है तथा माह जून, 2021 तक पूरा हो जायेगा।

बैठक में वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव वित्त श्रीमती एस.राधा चैहान सहित सभी सम्बन्धित अधिकारीगण आदि उपस्थित थे। बैठक का संचालन एवं प्रस्तुतीकरण अपर पुलिस महानिदेशक 1090/महिला एवं बाल सुरक्षा संगठन सुश्री नीरा रावत द्वारा किया गया। 


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top