पुश्तैनी टिम्बर व्यापारी जल्द ही देंगे धरना


टिम्बर व्यापारियों ने की प्रदेशव्यापी बैठक

लखनऊ | उत्तर प्रदेश टिम्बर एसोसिएशन की प्रदेश व्यापी बैठक आज शास्त्री नगर स्थित कार्यालय में सम्प्पन हुई। बैठक में प्रदेश अध्यक्ष मोहनीष त्रिवेदी ने कहा कि 2017 से पुश्तैनी टिंबर व्यापारियों के हक की लड़ाई उत्तर प्रदेश टिंबर एसोसिएशन सड़क से लेकर संसद तक तथा हाई कोर्ट से लेकर माननीय सर्वोच्च न्यायालय तक लड़ता चला आ रहा है जिसमें सरकार द्वारा तमाम आश्वासनों के बाद बावजूद आज तक पुश्तैनी टिंबर व्यापारियों को न्याय नहीं मिला बल्कि सरकार व वन विभाग द्वारा ई लाटरी के माध्यम से तमाम नए व ऐसे लोगों को लाइसेंस दे दिया गया जिन्होंने कभी भी लकड़ी व्यापार नहीं किया था ।

श्री त्रिवेदी ने कहा कि वह माननीय एनजीटी कोर्ट एवं माननीय सर्वोच्च न्यायालय को धन्यवाद ज्ञापित करते हैं कि माननीय न्यायालय द्वारा लॉटरी के माध्यम से पुश्तैनी टिम्बर व्यापारियों के साथ किया गये अन्याय को ई-लॉटरी को खारिज कर कुछ हद तक न्याय दिया गय। श्री त्रिवेदी ने बताया कि जल्दी ही लखनऊ में एक बड़ा धरना प्रदर्शन कर सरकार के सामने पुनः अपनी मांगों को रखा जाएगा संगठन के प्रदेश सलाहकार व नगर अध्यक्ष उत्तर प्रदेश युवा उद्योग व्यापार मंडल आसिम मार्शल ने कहा कि उत्तर प्रदेश के पुश्तैनी टिम्बर व्यापारियों के साथ हुए अन्याय के खिलाफ संगठन सदैव अपनी लड़ाई जारी रखेगा व जल्दी ही संपूर्ण उत्तर प्रदेश के टिम्बर व्यापारियों के लिए माननीय सर्वोच्च न्यायालय में एक रिट याचिका दाखिल कर न्याय की लड़ाई लड़ी जाएगी |

वही संगठन के संरक्षक पदम जैन ने कहा कि उत्तर प्रदेश टिम्बर एसोसिएशन टिंबर व्यापारियों के साथ ही किसान भाइयों के साथ हो रहे अत्याचार में उनके साथ है उत्तर प्रदेश सरकार एवं केंद्र सरकार से मांग करता है कि पीड़ित किसानों की मांगों को मानकर उन्हें न्याय देने का काम करे। प्रदेश महासचिव अनुराग शर्मा ने बताया कि हम लोग बड़ी व छोटी आरा मशीन, प्लाईवुड व विनियर के लिए भी सर्वोच्च न्यायालय में अगले माह तक एक याचिका दाखिल कर आगे की लड़ाई लड़ी जाएगी वही प्रदेश उपाध्यक्ष व मीडिया प्रभारी नदीम अहमद ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 2017 से ही पुश्तैनी टिम्बर व्यापारियों की अनदेखी की गई जिस कारण प्रदेश के तमाम पुश्तैनी टिंबर व्यापारी आज बेरोजगारी की दहलीज पर खड़े हैं सरकार को चाहिए की सबसे पहले पुश्तैनी टिंबर व्यापारियों को लाइसेंस देकर उन्हें उनका व्यापार वापस करने और सम्मान से जीवन जीने का अधिकार दे!

बैठक में मुख्य रूप से लखनऊ से रंजन खान, सुल्तानपुर से सरवर, बख्शी तालाब से सूर्य प्रकाश सिंह, मोहम्मद निसार,अंबेडकर नगर से रामजीत विश्वकर्मा अशोक विश्वकर्मा, बांदा से रामस्वरूप विश्वकर्मा, बबलू विश्वकर्मा, हापुड़ से जलालुद्दीन, गाजियाबाद से मोहम्मद आबिद, सुरेंद्र कुमार, कन्नौज से मोहम्मद अकरम, माल से मुन्ना, शकील भाई, राम भजन, व सगीर भाई, सहित सैकड़ों पीड़ित व्यापारी उपस्थित रहे!


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top
Translate »